व्यापम महाघोटाले में चार्जषीट किये हुये मामलों की भी होगी जांच।

0
966

ग्वालियर। व्यापम महाघोटाले की जांच कर रही सीबीआई उन मामलों की भी जांच कर रही है, जिनमें एसटीएफ ने चार्जषीट कर दी थी। सीबीआई ने 72 मामलों की लिस्ट बनाई है, जिसमें एक हजार से ज्यादा आरोपी हैं। इसमें 7 मामलों में तो कोर्ट का फैसला भी आ चुका है। सीबीआई इन केसों में एसटीएफ अधिकारियों की भूमिका की भी जांच करेगी। विधि विषेषज्ञों से विचार विमर्ष के बाद इस तरह की जांच की जा रही है। व्यापम मामले की जांच कर रही सीबीआई टीम से जुड़े अधिकारियों ने इसकी पुष्टि की है, उनका कहना हैं कि इन मामलों में एसटीएफ की जांच में जो तथ्य छूट गये होंगे वे हम कोर्ट को बतायेंगे, ऐसे मामलों में वकीलों की राय भी ली जा रही है। 15 जुलाई से सीबीआई ने व्यापम मामलों की जांच शुरू की थी। अब तक 112 एफआईआर सीबीआई दर्ज कर चुकी है। इसके अलावा व्यापम से जुड़े 23 आरोपियों की मौत पर भी पीई भी दर्ज कर चुकी है।

सीआरपीसी के सेक्षन 173 (1) में प्रावधान हैं कि किसी मामले में नया तथ्य मिलने पर उसे कोर्ट के सामने पेष किया जा सकता है। इसके लिये सीबीआई को सुप्रीम कोर्ट के आदेष का हवाला देकर संबंधित कोर्ट से पहले अनुमति भी लेनी होगी। इस आधार पर ही व्यापम के मामलों में नया तथ्य मिलने पर सीबीआई सप्लीमेंट्री चार्जषीट करेगी। सीबीआई उन लोगों को भी आरोपी बनायेगी, जिन्हें साक्ष्य होने के बाबजूद एसटीएफ ने आरोपी नहीं बनाया है। cbi 1 hindi