मंदिरों में गूंजे जयकारे, चौराहों पर फूंटीं मटकी

0
1069

अशोकनगर। जन्माष्टमी का पर्व जिलेभर में हर्षोल्लास से मनाया गया। इस अवसर पर शहर भर में कृष्ण मंदिरों पर रात्रि मेंं 12 बजे भगवान श्रीकृष्ण का प्रकटोत्सव मनाया। जन्माष्टमी के अवसर पर मंदिरों में रात्रि के समय विद्युत की जगमगाहट लोगों के लिए आकर्षण का केन्द्र रही। भगवान श्रीकृष्ण का जन्म मनाने के लिए मंदिरों में पहुंचे भक्त विद्युत की रोशनी को निहारते रहे। शहर के श्री तार वाले बालाजी मंदिर, अष्टभुजी माता मंदिर, श्रीबांके बिहारी मंदिर, रामजानकी मंदिर, सर्राफा बाजार हनुमान मंदिर सहित सभी मंदिरों में कृष्ण जन्म मनाने के लिए भक्तों की भीड़ रात्रि 10 बजे से ही बढ़ऩे लगी थी। और भजन कीर्तन का दौर आरंभ हो गया था। रात्रि मेें जैसे ही 12 बजे तो सभी मंदिरों पर शंख-झालरों और घंटियों की आवाज के साथ भगवान श्री कृष्ण के जयकारों की गंूज सुनाई देने लगी। इस दौरान कई मंदिरों पर आतिशबाजी भी की गई। इसी दौरान शहर के गांधी पार्क चौराहे, विदिशा रोड, सोनी कलोनी सहित अन्य स्थानों पर मटकी फोड प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया। जहां बच्चों ने भगवान कृष्ण का बाल रूप धारण कर दही से भरी मटकी को फोडऩे का प्रयास किया। गांधी पार्क चौराहे पर आयोजित हुई मटकी फोड़ प्रतियोगिता में आयोजकों द्वारा 25 फिट ऊंचाई पर मटकी को बंाधा गया। जहां रात्रि 9 बजे से डेढ़ बजे तक युवाओं की टोली मटकी को फोडने का प्रयास करती रही। इस आयोजन के दौरान एक युवक मटकी को फोडऩे का प्रयास करते हुए जमीन पर जा गिरा। जिसे उपचार हेतु जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया।