पांच दिवसीय श्री रेणुकाजी मेला सम्पन्न

0
1176

नाहन 25 नवम्बर- ( धर्मपाल ठाकुर ) – पांच दिवसीय अन्तर्राष्ट्रीय श्री रेणुका जी मेला आज श्री रेणुका जी तीर्थ स्थल पर देव-विदाईगी के साथ सम्पन्न हुआ। मुख्य संसदीय सचिव श्री विनय कुमार ने परम्परा के अनुसार मेले में आए भगवान परशुराम और अन्य देवी-देवताओं की पालकियों में कन्धा लगाकर विदाई की।

इसके उपरान्त रेणु मंच पर अपने सम्बोधन में श्री विनय कुमार ने कहा कि श्री रेणुका जी मेला प्रदेश के प्राचीन मेलो में से एक है जिसमें सिरमौर के अतिरिक्त पड़ोसी राज्य उतराखण्ड और हरियाणा के लोगो की अगाथ श्रद्धा एवं आस्था है। उन्होने कहा कि परम्परा के अनुसार भगवान परशुराम कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की दशम तिथि को जामूकोटी से अपनी मां रेणुका से मिलने आते है और मां-पुत्र के इस पावन मिलन पर इस मेले का आयोजन किया जाता है। उन्होने कहा कि यह मेला मां-पुत्र के वात्सल्य, स्नेह और प्यार का संदेश देता है कि अपनों से बड़ो का किस प्रकार सम्मान, आदरभाव एवं सेवाभाव किया जाऐ।

उन्होने कहा कि मेले और त्यौहार प्रदेश की समृद्ध संस्कृति के परिचायक है जिनका संरक्षण करना समय की अवश्यकता बन गई है। उन्होने कहा कि प्रदेश में गाये जाने वाले गीत-संगीत और प्राचीन मंदिर, रीति-रिवाज, परम्पराऐं राज्य की संस्कृति के द्योतक है जिससे जहां लोगो में आपसी प्यार, सदभाव, पारस्परिक सहयोग की भावना उत्पन्न होती है वहीं पर राष्ट्र की एकता और अखण्डता को बल मिलता है।

श्री विनय कुमार ने कहा कि ददाहू में गिरि नदी पर लोगो की सुविधा के लिए पैदल चलने योग्य पुल बनाया जाएगा। उन्होने कहा कि इस मेले को आकर्षित बनाने के लिए ओर प्रभावी कदम उठाऐ जाऐगे ताकि मेले के अन्तर्राष्ट्रीय स्तर की गरिमा बनी रहे।

उन्होने बताया कि इस वर्ष मशहूर स्टार कलाकारों के अलावा हिमाचल के कलाकारों को अपनी प्रतिभा दिखाने के अवसर प्राप्त किए गए ताकि ग्रामीण क्षेत्रों की छूपी हुई प्रतिभाओं को मंच प्रदान हो सके।

उन्होने इस अवसर पर विभिन्न विभागों द्वारा लगाई गई प्रदर्शनियों में प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय स्थान पर आने वाले विभागों को भी सम्मानित किया जिनमें जिला ग्रामीण विकास अभिकरण नाहन प्रथम, उद्यान विभाग-द्वितीय जबकि प्रारम्भिक शिक्षा और सूचना एवं जन सम्पर्क विभाग शिमला को संयुक्त रूप से तृतीय पुरस्कार दिया गया।

एसडीएम संगडाह एवं सदस्य  सचिव श्री रेणुका विकास बोर्ड श्री अशोक चौहान ने मुख्य अतिथि का स्वागत किया और मेले में आयोजित गतिविधियों बारे जानकारी दी जबकि कार्यकारी अधिकारी श्री रेणुका विकास बोर्ड श्री रविन्द्र गुप्ता ने धन्यवाद किया।

मेले के समापन अवसर पर हिमफैड के अध्यक्ष कवंर अजय बहादुर सिंह, जिला कांग्रेस अध्यक्ष अजय सोलंकी, कांग्रेस मण्डल अध्यक्ष तपेन्द्र चौहान, कृषि विकास बैंक के निदेशक मित्र सिंह तोमर, पूर्व जिला परिषद अध्यक्ष राजेन्द्र ठाकुर सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

समापन अवसर पर प्रदेश की प्रसिद्ध लोक गायिका सरिता बुशहरी ने अपनी सुरीली आवाज के माध्यम से लोगो को मंत्रमुग्ध कर दिया। इसके अतिरिक्त चुडेश्वर कला मंच जालग, ब्रहम दत्त एण्ड पार्टी बाउनल के अलावा विभिन्न क्षेत्रों से आऐ कलाकारों ने भी लोगो का भरपूर मनोरंजन किया जबकि मंच संचालन रश्मि ठाकुर द्वारा बखुबी निभाया गया। उन्होने रूबाईयों और चुटकुलों के माध्यम से लोगो का मनोरंजन करवाया।

16 17 18 19 22