देवताओं की प्रतिमा विसर्जन करने जा रहे, जीप नदी में गिरने से पिता-पुत्र की मौत।

0
1076

ग्वालियर। 26दिसंबर[ सीएनआई ब्यूरो ]मुरैना निवासी रामसेवक परमार अपने तीनों पुत्रों हरेन्द्र, धर्मेन्द्र, कुलदीप और भांजे सचिन के साथ देवताओं की प्रतिमा विसर्जित करने जीप से सोरों उ.प्र. के लिये रवाना हुये थे, गाड़ी में देव प्रतिमाएं थीं, जिनका विसर्जन करना था। कोहरे के कारण चंबल के राजघाट पुल पर जीप चला रहे कुलदीप को नजर न आने पर गाड़ी रेलिंग तोड़कर चंबल नदी में जा गिरी। जीप को गिरते देख धौलपुर की सागर पाड़ा पुलिस चौके के जवान ने देखकर अपने साथियों की मदद से बाहर निकाला, सभी बेसुद थे, धौलपुर अस्पताल ले जाने पर रामसेवक व उसके पुत्र हरेन्द्र को मृत घोषित कर दिया।

exedent