कोरोना की दहशत से बढ़ी मास्क की मांग, 50 पैसे वाला बिक रहा है 25 रुपये में, सेनेटाइजर भी गायब

0
844
देश में कोरोनावायरस के दस्तक देने के बाद आम लोगों में दहशत का माहौल है। दूसरी तरफ कोरोना के नाम पर दवाइयों के दाम में 25 से 45 फीसदी तक का उछाल आ चुका है। इसका फायदा लेकर कुछ दवा विक्रेता दवाओं को मनमाने दाम पर बेच रहे हैं। अगर कोरोना का कहर इसी तरह जारी रहा तो दवाइयों व अन्य सामान के दाम में कई गुणा तक इजाफा हो सकता है। चीन से आयात पूरी तरह से बंद हो चुका है। वहीं, जिनके पास कुछ स्टाक पड़ा है, वह अपने माल को मनमाने दाम पर बेच रहे हैं।

कोरोनावायरस से बचाव के लिए मास्क लगाने को जरूरी बताया जा रहा है। ऐसे में मास्क की मांग एक दम से बढ़ गई है। आलम यह है कि पंजाब की सबसे बड़ी दवा की होलसेल मार्केट में मास्क का स्टाक खत्म होने के कगार पर पहुंच चुका है। होलसेल में मात्र 25 पैसे में मिलने वाला मास्क ग्राहकों को 25 रुपये तक बेचा जा रहा है।

मास्क में एन-95 को सबसे अच्छा माना जाता है। होलसेल मार्केट में जहां पहले इसका दाम महज 120 रुपये था, अब इसके दाम 160 रुपये पहुंच गया है। जबकि रिटेल में इस मास्क को तीन सौ रुपये तक बेचा जा रहा है। जिन लोगों के पास मास्क स्टॉक में पड़े थे, उन्होंने दाम बढ़ने के इंतजार में इसकी बिक्री बंद कर दी है।

वरिन्दर राणा, अमर उजाला, लुधियाना