सोलन-शिमला नेशनल हाइवे पर एनएच ने चलाया कानूनी डंडाकंडाघाट से लेकर चंबाघाट तक हाइवे से हटाई रेहड़ी-फडिय़ां

0
203

-तीखी नोक-झोंक के बीच हाइवे से दौड़ाए कब्जाधारी
-विभाग ने कारोबारियों को एनएच पर सामान न रखने को दी सख्त हिदायत
सोलन, 01 दिसंबर। (धर्मपाल ठाकुर) सोलन-शिमला राष्ट्रीय उच्चमार्ग पर एनएच की जमींन पर अवैध तरीके से रेहड़ी-फड़ी चलाने वालों व अन्य कारोबारियों पर नेशनल हाइवे अथॉरिटी ने शिकंजा कस दिया है। एनएच की टीम ने पुलिस फोर्स की मौजूदगी में कंडाघाट से लेकर चंबाघाट रेलवे फाटक तक नेशनल हाइवे से अवैध कब्जों को हटाया। इस दौरान विभागीय अधिकारियों तथा लोगों के बीच कई मर्तबा तीखी नोंक-झोंक भी हुई। कुछ कारोबारियों को विभागीय अधिकारियों ने सख्त हिदायत दी है कि वह तीन दिनों के भीतर सड़क से अवैध कब्जों को हटा लें।
सोलन-शिमला एनएच पर नेशनल हाइवे अथॉरिटी की भूमि पर अवैध तरीके से कब्जा करके बैठे कारोबारियों पर विभाग ने शिकंजा कस दिया है। मंगलवार को नेशनल हाइवे अथॉरिटी के अधिकारियों की एक टीम ने पुलिस की उपस्थिति में कंडाघाट स्थित पैट्रोल पंप से लेकर चंबाघाट रेलवे फाटक तक सड़क के दोनों तरफ से अवैध तरीके से लगाई गई रेहडिय़ों को हटाया। साथ ही जिन लोगों ने नेशनल हाइवे की जमींन पर कुंडली मार रखी है उन्हें भी जगह को खाली करने के लिए सख्त हिदायत दी गई है।
नेशनल हाइवे अथॉरिटी ने विभाग से बिना अनुमति लिए ही बोर्ड तथा होर्डिंग्स लगाए हैं उन पर भी शिकंजा कसा।
नेशनल हाइवे अथॉरिटी ने सलोगड़ा से कार्रवाही को शुरू किया। इसके बाद ब्रुअरी व चंबाघाट में विभागीय जमींन पर अवैध कब्जा करके बैठे कारोबारियों को जगह खाली करने के कड़े निर्देश दिए। हालांकि इस दौरान विभागीय अधिकारियों व लोगों के बीच में तीखी नोक-झोंक भी हुई। हाइवे से अवैध कब्जों को हटाने पहुंचे नेशनल हाइवे के अधिकारियों के समक्ष कुछ लोगों ने आपत्ति दर्ज की कि विभाग को कार्रवाही करने से पूर्व उन्हें नोटिस सर्व किए जाने चाहिए थे।
चंबाघाट में जिन लोगों को नोटिस प्राप्त नहीं हुए हैं उन्होंने विभागीय कार्रवाही को गलत ठहराते हुए उसे रोकने का प्रयास भी किया। हालांकि विभागीय अधिकारियों ने तर्क दिया कि ज्यादातर लोगों को विभाग की भूमि को खाली करने के संदर्भ में कई दिन पूर्व ही नोटिस जारी किए जा चुके हैं। जिन लोगों को विभाग का नोटिस प्राप्त नहीं हुआ हैं उन्हें विभाग ने मौके पर ही नोटिस थमा दिया। इससे दोनों ही पक्षों के बीच कुछ समय के लिए विवाद खड़ा हो गया।
गौर रहे कि सोलन-शिमला राष्ट्रीय उच्चमार्ग के दोनों तरफ लोगों ने अवैध तरीके से रेहड़ी-फड़ी लगाई है। साथ ही कुछ कारोबारियों ने राष्ट्रीय उच्चमार्ग पर अपने सामान को रखा हुआ है। इसके चलते हाइवे दिनोंदिन संकरा होता जा रहा है जोकि वाहन दुर्घटनाओं को न्यौता दे रहा है। इसी के मद्देनजर मंगलवार को एनएस ने कंडाघाट से चंबाघाट स्थित रेलवे फाटक तक सड़क के दोनों तरफ अवैध तरीके से रेहड़ी-फडिय़ों को हटाया। एनएच की उक्त कार्रवाही से पूरा दिन रेहड़ी-फड़ी धारकों व कारोबारियों में हड़कंप मचा रहा।
उधर नेशनल हाइवे अथॉरिटी सोलन के जेई गुरवचन सिंह ने पुष्टि करते हुए बताया कि हाइवे पर अवैध कब्जा मंजूर नहीं होगा। उन्होंने कहा कि विभाग ने कंडाघाट पैट्रोल पंप से लेकर चंबाघाट तक कार्रवाही को अमल में लाया है। भविष्य में भी विभाग की कार्रवाही जारी रहेगी।
फोटो….