श्री प्रेम धाम में गीता जंयति पर हवन यज्ञ कर भक्तों ने मांगी सुख स्मृद्धि,

0
354

लुधियाना 30 नवम्बर (सी एन आई ) काकोवाल रोड स्थत श्री प्रेम धाम में गीता जंयति के उपलक्ष्य में हवन यज्ञ का आयोजन किया गया। गुरुदेव मुकेशानंद जी के सान्धिय में आयोजित हवन यज्ञ में प्रेम धाम ट्रस्ट के सदस्यों ने आहुतियां डालकर आर्शीवाद लिया। मुकेशानंद गिरी जी महाराज ने गीता के ज्ञान को मानव जीवन के लिए सर्वश्रेष्ठ बताते हुए कहा कि गीता आत्मा एवं परमात्मा के स्वरूप को व्यक्त करती है। कृष्ण के उपदेशों को प्राप्त कर अर्जुन उस परम ज्ञान की प्राप्ति करते हैं जो उनकी समस्त शंकाओं को दूर कर उन्हें कर्म की ओर प्रवृत करने में सहायक होती है। गीता के विचारों से मनुष्य को उचित बोध कि प्राप्ति होती है । गीता का ज्ञान आत्मा तत्व का निर्धारण कर उसकी प्राप्ति का मार्ग प्रशस्त करता है। इस ज्ञान की प्राप्ति से अनेक विकारों से मुक्ति मिलती है। हवन यज्ञ के उपरांत साप्ताहिक सत्संग में बही नाम रुपी गंगा में भक्तों ने स्नान कर अध्यात्मिक आन्नद उठाया। आरती के साथ सत्संग सभा को विश्राम दिया गया। इस अवसर पर बाबा गोपाल दास,बाबा दीपक,पंडित सोहन लाल,मनमोहन मित्तल,अशोक जिंदल,सुमित गोयल,विनोद गोयल,सुदेश गोयल,रवि गोयल,अनिल धमीजा,प्रेम सिंगला,राजिंदर मिगलानी,हनी गर्ग,लकी जिंदल,लितेश महाजन,बॉबी बहल,रूबी ठाकुर,दीपक वर्मा,अमरजीत सिंह,नोनी भुंबला,मनोज शर्मा,रितेश कपूर,अमनदीप सिंह,राजिंदर सिंह,गौरव गुप्ता,डॉ.सुखविंदर सिंह,डॉ.नवजोत पुरी,प्रिंस शर्मा,कपिल गर्ग इत्यादि उपस्थित थे