लुधियाना / बुड्ढा नाले की दशा सुधारने को 650 करोड़ रुपए का प्रावधान, सतलुज में कम होगा प्रदूषण

0
605
  • इसी महीने पंजाब मंत्रिमंडल ने बुड्ढा नाले की साफ-सफाई के लिए 650 करोड़ रुपए की मंजूरी दी थी
  • सतलुज दरिया का पानी साफ होने के साथ दरिया के आसपास के हिस्सों के जमीनी पानी में भी हैवीमेटल की मात्रा घटेगी

Dainik Bhaskar

Feb 28, 2020, 10:49 PM IST

लुधियाना. बुड्ढा नाले की दशा सुधारने के लिए पंजाब सरकार ने बजट में 650 करोड़ रुपए का प्रावधान किया है। बुड्ढा नाले की दशा सुधारने से सतलुज दरिया में बढ़ रहे प्रदूषण को कम करने में काफी मदद मिलेगी। इससे न केवल पंजाब बल्कि राजस्थान के लोगों को भी फायदा मिलेगा। इसका असर हरिके हेड वैटलैंड में भी दिखाई देगा। सतलुज दरिया का पानी साफ होने के साथ दरिया के आसपास के हिस्सों के जमीनी पानी में भी हैवीमेटल की अधिकता भी कम होगी। इसी महीने पंजाब मंत्रिमंडल ने बुड्ढा नाले की साफ-सफाई के लिए 650 करोड़ रुपए की मंजूरी दी थी।

सतलुज दरिया के प्रदूषण में लुधियाना के बुड़ढा नाले का अहम योगदान है। इस नाले में लुधियाना शहर का पूरा गंदा पानी गिरने के साथ फैक्ट्रियों का केमिकलयुक्त मलवा व डेयरियों का मलबा गिरता है, जो आगे जाकर सतलुज दरिया में मिलता है, जिससे सतलुज दरिया का पानी काला दिखाई पडऩे के साथ हैवीमेटलयुक्त होता है।अगले नाले की हालत सुधरेगी और नाले में ट्रीटमेंट में होकर साफ पानी गिरेगा, तो दारिया का भी प्रदूषण कम होगा, जिसका फायदा सतलुज के पानी का सेवन करने वाले पंजाब व राजस्थान के लोगों को भी मिलेगा।

नगर निगम के पास है सफाई का जिम्मा
इस तरह बुड्ढा दरिया नगर निगम के क्षेत्र में 14 किलोमीटर तक बहता है। दरिया के इस हिस्से की सफाई का जिम्मा सीधे तौर पर नगर निगम के पास है। नगर निगम पिछले साल तक दरिया की सफाई के लिए सिंचाई विभाग को फंड देता था और उसके बाद सिंचाई विभाग दरिया की सफाई करवाता था। दरिया की सफाई पर प्रति साल एक करोड़ रुपए से ज्यादा की राशि खर्च की जाती रही है। इस बार नगर निगम ने अपनी मशीनरी उतारी है इस बार निगम ने अपनी मशीनरी दरिया के किनारे उतारी और खुद ही सफाई शुरू करवा दी थी।