रोष प्रदर्शन – नोटबंदी की तरह एनसीआर के नाम पर जनता को लाईनों में लगाना चाहते है प्रधानमंत्री : उसमान रहमान

0
345
शाहीन बाग में एनपीआर को लेकर केन्द्र सरकार खिलाफ रोष प्रदर्शन
– नोटबंदी की तरह एनसीआर के नाम पर जनता को  लाईनों में लगाना चाहते है प्रधानमंत्री : उसमान रहमानी
लुधियाना 3 मार्च ( – ) : केंद्र सरकार खिलाफ शहर की दाना मंडी में चल रहे शाहीन बाग प्रदर्शन के आज 21वें दिन एनपीआर को लेकर मोदी सरकार खिलाफ जबरदस्त रोष प्रदर्शन किया गया। इस अवसर पर विजय बोद्धी, जय सिंह बामसेफ, मौलाना मैराज कुंदनपुरी, मुस्तकीम करीमी ने संबोधित किया। स्वतंत्रता संग्राम में शामिल रही पार्टी मजलिस अहरार इस्लाम हिन्द के महासचिव मौलाना मुहम्मद उसमान ने संबोधित करते हुए कहा कि केन्द्र की मोदी सरकार नोटबंदी की तरह एनपीआर और एनआरसी के नाम पर देश की 130 करोड़ जनता को लाईनों में लगाना चाहती है। उसमान ने कहा कि सर्वधर्मों के लोग इस बात को समझे कि शाहीन बाग अंदोलन देश के संविधान की रक्षा के लिए चल रहा है इसका साथ हम सभी को देना चाहिए। उन्होंने कहा कि जो यह समझते है कि सी.ए.ए में मुस्लमानों का नाम नहीं है और एनआरसी आने पर सिर्फ एक धर्म के लोगों को इसका सामना करना पड़ेगा तो यह उनकी भूल है। आसाम में भी 14 लाख गैर मुस्लिम परिवारों को एनआरसी से बाहर कर दिया गया है। उसमान रहमानी ने कहा कि सरकार सभी से धोखा कर रही है, एनआरसी से बचने के लिए अगर कोई गैर मुस्लिम सी.ए.ए. के कागज भरेगा तो वो भी भारतीय नागरिकता छोड़ शरणार्थियों की श्रेणी में शामिल होगा और सरकार कहती है कि शरणार्थियों को 6 वर्ष से पहले  नागरिकता नहीं दी जाएगी। इस तरह वर्षों से भारत में रहने वाला भी दूसरे दर्जे का शहरी बन जाएगा। उन्होंने कहा कि यह अबरों रूपए का हेरफेर करने वाले पुंजीपतियों का साथ देनी वाली सरकार है, यह लड़ाई पुंजीपतियों और गरीबों की लड़ाई है जिसमें सरकार  पुंजीपतियों के साथ खड़ी नजर आ रही है।
वर्णनयोग है कि आज शाहीन बाग में मदरसा उमर फारूक दाना मंडी से प्रधान मुहम्मद अबदुल करीम, नूर आलम, इरशाद, इशराफिल, मुमताज, मजहर आलम, मुसफीक, शराफत, मुन्ना खान, मुसाहिद, शमीम रब्बानी की अध्यक्षता में बड़ी संख्या में महिलाओं व पुरूषों का काफिला पहुंचा जो इंकलाब जिंदाबाद, संविधान एकता जिंदाबाद, हिन्दु, मुस्लिम, सिख, इसाई, दलित  एकता जिंदाबाद के नारे लगा रहे थे।

फोटो कैप्शन 1 : प्रदर्शन कारियों को संबोधित करते हुए मौलाना मुहम्मद उसमान रहमानी।
फोटो कैप्शन 2 : एनपीआर के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए प्रदर्शनकारी।