रैली के दौरान बाल मजदूरों को देख जिला कानूनी सेवाएं अथार्टी के सचिव एवं अन्य जज साहिबान दंग रह गए।

0
831

बरनाला, 9 अक्टूबर (अखिलेश बंसल/विपन गुप्ता) राष्ट्रीय कानूनी सेवाएं अथार्टी नयी दिल्ली के दिशा-निर्देश के तहत बरनाला में वीरवार की सुबह जिला कानूनी सेवाएं अथार्टी द्वारा सेवा के लिए जोड़ो (कोनेक्टिंग-टू-सर्वे) मुहिम का रैली का आयोजन करते हुए आगाज़ किया गया। जिसे हरी झंडी देने की रस्म जिला व सेशन जज सुखदेव सिंह, चीफ जुडीशियल मैजिस्ट्रेट पी.एस.कालेका, जिला पुलिस मुखी हरजीत सिंह आईपीसीएस ने की। शहर में आयोजित की गई रैली के दौरान मजदूरी करते हुए सडक़ों व दुकानों पर मिले बाल मजदूरों को देख जिला कानूनी सेवाएं अथार्टी के सचिव एवं अन्य जज साहिबान दंग रह गए।
जिला अदालत परिसर से किया आगाज़:-सेवा के लिए जोड़ो (कोनेक्टिंग-टू-सर्वे) मुहिम का रैली का आगाज़ जिला अदालत परिसर से किया गया। जिसमें विभिन्न शिक्षण संस्थानों के छात्र-छात्राओं के इलावा पैनल वकील, उपकार को-आर्डीनेशन सोसायटी, एवं अन्य संगठनों ने भी भाग लिया। इस अवसर पर जिला फैमिली कोर्ट के जज अजायब सिंह, एडीशनल जिला व सेशन जज बलजिन्दर सिंह सरां, एडीशनल सिविल जज (उपमंडल) जरनैल सिंह, सीजेएम गुरप्रताप सिंह, एडीशनल सिविल जज (सब-डिवी.) रंजीव पाल सिंह चीमा, सिविल जज (जुनि. डिवी.) श्रीमति कुलविन्दर कौर और वकील भाईचारा उपस्थित था।
बाल मजदूरों को देख दंग रह गए जज:-जागरूकता रैली जो कि कोर्ट कंपलैक्स से चलकर शहर के कचेहरी चौक, सिविल अस्पताल, भाई नामदेव चौक, महाराज अग्रसैन चौक, सदर बाजार, शहीद-ए-आकाम स. भगत सिंह चौक, सदर बाजार, नेहरू चौक से होकर वापिस कोर्ट परिसर पहुंची।
रास्ते में कूड़ा-करकट उठाते हुए एवं दुकानों व रेहडिय़ों पर मजदूरी करते हुए छोटे छोटे बच्चे मिले। जिन्हें देखकर जज साहिबान दंग रह गए। जिसको लेकर कानूनी सेवाएं अथार्टी के सचिव एवं सीजेएम पी.एस.कालेका ने संबंधित वकीलों के पैनल व अधिकारियों को बच्चों का जीवन सुधारने के आदेश दिए।
गांव चन्ननवाल से आकर बाजार में घूम रही विधवा महिला नसीब कौर ने पैंशन नहीं मिलने की शिकायत की। जिसको लेकर न्यायमूर्ति ने तुरन्त पैन्शनर्स विभाग को पैन्शन लगाने के आदेश दिए। रास्ते में मिले अपंग व घावों से पीडि़त व्योवृद्ध का ईलाज करवाने के आदेश जारी किए। उसी दौरान मुंगफली रेहड़ी पर मजदूरी कर रहे 14 वर्षिय अनमोल के पिता चन्दरपाल को आदेश दिए कि बच्चे को पढ़ाए तथा बालिग होने पर यथायोग्य काम करवाए। एस.डी.कालेज के पास स्थित कबाड़ एवं रेहड़ीयों की दुकान कर रहे दुकानदार को निर्देश दिए कि किसी भी छोटे बालमजदूर को कबाड़ एकत्रित करते हुए व बेचता, नजर आए तो तुरन्त सूचना दी जाए।
18 नवम्बर तक चलेगी मुहिम: जिला कानूनी सेवाएं अथार्टी के प्रधान व सचिव ने बताया कि उक्त जागरूकता मुहिम 18 नवंबर तक जारी रहेगी। डोर-टू-डोर कंपेन भी चलेगी। जिसके लिए वकीलों के पैनल की कुल 18 टीमों का गठन किया गया है। आखिरी दो दिनों के बीच 17 नवंबर को श्री लाल बहादुर शास्त्री ार्य महिला कालेज और 18 नवंबर को गांव चन्ननवाल में कैंप लगाए जाएँगे।