भाणा मामला में चौंकी प्रभारी निलंबित पूरे मामले की होगी निष्पक्ष जांच-ईश्वर सिंह

0
732

 

कैथल 26 दिसंबर  (राजकुमार अग्रवाल) रास्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के सदस्य ईश्वर सिंह ने कहा है गांव भाणा के दलित युवक की मौत की निष्पक्ष जांच करवाई जाएगी और इस मामले में किसी भी दोषी को बक्शा नहीं जाएगा। उन्होंने इस मामले में चौंकी प्रभारी को निलंबित कर पूरे मामले की रिपोर्ट दिल्ली तलब कर ली। वे आज गांव भाणा में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। इससे पूर्व उन्होंने पूंडरी के लोक निर्माण विभाग के विश्राम गृह में पुलिस अधीक्षक कृष्ण मुरारी से इस पूरे मामले की जानकारी ली। इसके बाद वे पूरे प्रशासनिक अमले के साथ मृतक युवक के गांव भाणा पहुंचे और उन्होंने मृतक के परिजनों को सांत्वना दी। उन्होंने मृतक के परिजनों को भरोसा दिलाया कि इस मामले में किसी भी दोषी को बक्शा नहीं जाएगा। उधर इस मामले की गंभीरता को देखते हुए उन्होंने एस.पी.कैथल को निर्देश दिए कि चौंकी प्रभारी पूंडरी महाबीर सिंह को तत्काल प्रभाव से निलंबित किया जाए तथा इस मामले की जांच डीएसपी से करवाई जाए तथा इसकी रिपोर्ट भी एक सप्ताह में देनी होगी। ईश्वर सिंह ने मृतक के परिजनों से भी अलग से बातचीत की व गाव म्योली के एक युवक जिसका नाम लड़की भगाने को लेकर पूंडरी चौंकी में दर्ज एफ.आई.आर में शामिल है से भी अलग से बातचीत की। मृतक के परिजनों ने उनसे गुहार लगाई की उन्हें इस मामले में न्याय चाहिए। इस मौके पर गांव भाणा में दलित संगठनों के पदाधिकारी भी पहुंचे हुए थे। इस मौके पर एस.पी.कृष्ण मुरारी, नायाब तहसीलदार प्रकाशचंद, डीएसपी सतीश गौतम, निरीक्षक अंग्रेज सिंह व थाना प्रभारी पूंडरी नवीन कुमार भी मौजूद थे। बता दे कि पूंडरी पुलिस ने पुलिस चौंकी में 23 दिसंबर को दर्ज लड़की को बहला-फुसला कर ले जाने के एक मामले मेें भाणा निवासी ऋषिपाल को पुलिस चौंकी में बुलाया था और उसके बाद शाम को परिजन उसे घर ले गए। 24 दिसंबर की सुबह युवक ने फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली थी और जिसे लेकर मृतक के पिता ने पूंडरी पुलिस चौंकी के कर्मचारियों पर उसके बेटे पर दबाव बनाने का आरोप लगाया था।
26 पाई 1 व 2, मृतक के परिजनों को सांत्वना देते व पत्रकारों से बातचीत करते ईश्वर सिंह।
4f119ce6-bd27-4fa9-95ff-614915251da8