भगवान श्रीकृष्ण ने जगत को प्यार समानता निर्भयता शिक्षा का सबक पढ़ाया ; पूनम दीदी

0
905

भगवान श्रीकृष्ण ने जगत को प्यार समानता निर्भयता शिक्षा  का सबक पढ़ाया ; पूनम दीदी

चंडीगढ़ ; 5 सितम्बर ; आरके विक्रांत शर्मा /करण शर्मा /गगनदीप सिंह ;—आज का दिन धार्मिक स्तर और ज्योतिषी स्तर सहित कई मायनों में बड़ा सौभाग्यशाली है ! और हम सब भी सौभाग्यशाली जो इस पवित्र अद्भुत दिवस को मना रहे हैं ये दिवस इतनी सहजता से नहीं प्राप्त होता ! आज ही  भगवान श्रीकृष्ण का अवतार दिवस जयंती और आज ही शिक्षक दिवस भी है ! ये विचार दीदी पूनम जी ने प्रजापिता ब्रह्मकुमारी सेक्टर 27 कार्यालय पर एकत्रित जन समूह के साथ सांझे किये ! दीदी पूनम ने बताया भगवान  अपनी संतान को निर्लेप निस्वार्थभाव से स्नेह करते उनका भरण पोषण करते हैं ! भगवान बिना भेदभाव के सब का लालनपालन करते हैं ! दीदी पूनम ने शिक्षा का जीवन में महत्व और शिक्षा का सही मायने में अर्थ सविस्तार पूर्वक समझाया ! शिक्षा किताबी पढ़ाई ही नहीं बल्कि जीवन जीने की कला समाज परिवार देश में रहने की भी कला और अनुभव देती है ! शिक्षित इंसान अपने आसपास के समाज को कभी दुखी नहीं रहने देते ! भागवत गीता का आज के आधुनिक दौर में प्रासंगिकता पर भी जानकारी दी ! जन समूह ने धर्म प्रवचनों का मंत्र मुग्ध होकर श्रवण  किया !  दीदी पूनम इ आज की भागदौड़ भरी जीवन प्रणाली  मेडिटेशन और योग का अर्थ और उपयोग समझाया ! इस पवित्र और प्रेरणादाई अवसर के लिए अदिति कलाकृति हब ऑफ़ हॉबीज की प्रिंसिपल आर्टिस्ट मोनिका शर्मा आभा ने और दीदी पूनम जी ने सांझे तौर पर तय किया कि  घरेलू कामकाज करने वाली बाइयों सहित गृहणियों को निजी स्तर पर योग मेडिटेशन का महत्व समझाया जायेगा ताकि वो घर के काम करते हुए स्वस्थ ढंग से काम निपटाएं और स्वस्थ जीवन जियें ! दीदी ने कहा धर्म भीरुता नहीं जीने का सही विज्ञानं और धर्म संगत ढंग सिखाता है !
===आरके विक्रांत शर्मा / करण शर्मा /गगनदीप सिंह /सीएनआइचैनल चंडीगढ़ ===