फरीदकोट की केंद्रीय मॉडर्न जेल13 दिनों में 3 बार जेल प्रशासन की लापरवाही आई सामने, जेल अंदर बंद गैंगस्टरो से मोबाईल मिलने का सिलसिला निरन्तर जारी,

0
656

फरीदकोट 4 दिसंबर ( राकेश शर्मा ) पुलिस की तरफ से विशेष चैकिंग दौरान जेल की बैरक नंबर 6में बंद गैंगस्टर भोला शूटर और नवीन के पास से मोबाईल मिलने का सिलसिला निरन्तर जारी है , कुछ दिन पहले इसी ज़ैल में से पूर्व गैंगस्टर लक्खा सिधाना भी हुआ था, एस एस पी नानक सिंह ने जानकारी देते हुए कहा की फेसबुक् पर लाईव जेल सुरक्षा की बारीकी के साथ जांच की जायेगी ,- चाहे कर दस सालों बाद सता आई कांग्रेस की सरकार पंजाब के लोगों की जान माल की सुरक्षा और साफ़ सुथरा प्रशासन देने के बड़े बड़े दावे करती नहीं थकती और कैप्टन सरकार गैंगस्टारो पर लगाम लगाने के लिए पकोका लागू करने की तैयारी भी कर रही है परन्तु दूसरी तरफ़ गैंगस्टारों के मन में पुलिस का ख़ौफ़ ख़त्म होता जा रहा है जिस कारण जेलो में भी गेंगस्टरो ने अपना नैटवर्क कायम कर रखा हैं। यदि बात की जाये पंजाब के ज़िला फरीदकोट की माडरन जेल की तो अनेकों सहूलतों के साथ लैस होने के बावयूद भी इस ज़ैल की सुरक्षा व्यवस्था की पोल समय समय पर खुलती रहती है ,
क्या है पूरा मामला :- आपको बता दे की अभी कुछ दिन पहले ही लक्खा सधाना पूर्व गैंगस्टर जेल के अंदर से अपने मोबाइल फ़ोन के द्वारा फेसबुक पर लायव हुआ था और फिर गैंगसस्टर लारेंस बिशनोयी से उस की बैरक में पुलिस ने मोबाइल बरामद किया था जिससे जेल की सुरक्षा प्रबंधो की पोल खुल कर सब के सहमने आ गयी |जेल प्रशाशन ने बड़े बड़े वायदे किये और बताया की सुरक्षा प्रबंध कड़े कर दीये है लेकिन अभी सप्ताह भी नहीं हुआ की अब जेल में बंद गैंगस्टर भोला शूटर और नवीन की बैरक से पुलिस की चैकिंग दौरान दो मोबाइल बरामद हो गए , उसके बाद पुलिस ने कार्यवाही करते हुए गैंगसस्टर भोला शूटर समेत नवीन और मुकदमा दर्ज कर लिया है।
इस पूरे मामले की जानकारी देते हुए फरीदकोट के एस एस पी नानक सिंह ने बताया कि जेल में चैकिंग दौरान पुलिस ने गैंगसस्टर भोला शूटर और नवीन की बैरक में से दो मोबायल बरामद किये हैं,उनहोने बताया कि पिछले,12,13 दिनों में काफ़ी मोबाइल बरामद किये गए हैं उनहोने कहा कि ज़ैल सुरक्षा की बारीकी के साथ जांच की जा रही है यदि ज़रूरत पड़ी तो ज़ैल में सुरक्षा ओर बड़ाई जायेगी,
हैरानी वाली बात तो यह है कर आखिर जेल में होती दो जगह चैकिंग दौरान सुई भी जेल अंदर नहीं जा सकती परन्तु लगातार मोबाईलों का जेल अंदर से मिलना यह ही दर्शाता हे की कोइ ना कोइ काली भेड़ सुरक्षा में लगी है जिसकी पहचान जल्द से जल्द करना जरूरी है कही ऐसा न हो की देर हो जाये और गैंगस्टर किसी बड़ी वारदात को अंजाम दे जाने में सफल हो जाये