पाकिस्तान की दोगली नीति सहन नहीं, लुधियाना में सैंकड़ों मुसलमानों ने इमरान खान का पुतला फूंका,

0
322

लुधियाना, 15 फरवरी ( सी एन आई ) : बीती शाम जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकवादी हमले की कड़े शब्दों में निंदा करते हुए आज यहां जामा मस्जिद लुधियाना में पत्रकार सम्मेलन को संबोधित करते हुए शाही इमाम पंजाब मौलाना हबीब उर रहमान सानी लुधियानवी ने कहा कि पुलवामा हमले के लिए सीधे तौर पर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान जिम्मेदार हैं, क्योंकि इस आतंकी हमले ने इमरान खान की दोगली नीति बेनकाब कर दी है। शाही इमाम ने कहा कि पुलवामा में शहीद हुए सीआरपीएफ के 44 जवानों के खून को माफ नहीं किया जा सकता। शाही इमाम ने कहा कि पाकिस्तान कान खोल कर सुन ले कि भारत की रक्षा और एकता, अखंडता के लिए हिन्दू-मुस्लिम-सिख सभी एकजुट हैं और दुश्मन के हर एक हमले का मुंह तोड़ जवाब दिया जाएगा। शाही इमाम ने कहा कि दुख की इस घड़ी में 56 इंच का ताना देने वालों को शर्म आनी चाहिए, यह राजनीति करने का समय नहीं बल्कि एकजुट होकर दुश्मनों को मुंह तोड़ जवाब देने का समय है।
इसी बीच जामा मस्जिद के बाहर नायब शाही इमाम मौलाना मुहम्मद उस्मान रहमानी लुधियानवी की अगुवाई में सैंकड़ों मुसलमानों ने पाकिस्तान के खिलाफ रोष प्रदर्शन कर पाक प्रधानमंत्री इमरान खान का पुतला फूंका और पाकिस्तान के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए नायब शाही इमाम मौलाना मुहम्मद उस्मान ने कहा कि पाकिस्तान की दोगली नीति को सहन नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा कि दोस्ती और आतंकवाद एक साथ नहीं चल सकते, पाकिस्तानी प्रधानमंत्री को चाहिए कि वह अपनी धरती पर से आतंकवादियों की मदद करना बंद करे। नायब शाही इमाम ने कहा कि पुलवामा में शहीद हुए जवानों की कुर्बानी को पूरा देश सलाम करता है और यह प्रण करता है कि ईंट का जवाब पत्थर से दिया जाएगा। वर्णनयोग है कि आज जुम्मे की नमाज के बाद पुलवामा में सीआरपीएफ के जवानों पर हुए आतंकवादी हमले के विरोध में रोष प्रदर्शन के दौरान पाकिस्तान मुर्दाबाद, आतंकवाद मुर्दाबाद, इमरान खान मुर्दाबाद के नारे लगाए गए। इस मौके पर गुलाम हसन कैसर,कारी इब्राहिम,हाफिज़ जैनुल आबदीन,मौलाना महबूब, मुहम्मद खालिद,शाहनवाज अहमद, अकरम अली, बाबुल खान,सरफराज खान व शाही इमाम पंजाब के मुख्य सचिव मुहम्मद मुस्तकीम अहरारी विशेष रूप से उपस्थित थे।