नेपाल में बवाल अबतक गई ४८ की जान

0
232

रिपोर्टर मुहम्मद आरिफ/महराजगंज:- नेपाल में मधेस आन्दोलन और अधिकार की जंग में लगातार हालत बिगडती जा रही है एक ओर जहा मधेस नेपाल में अपने अधिकार के लिए सवैधानिक तरीके से आन्दोलन कर रहे थे वही नेपाल के पहाड़ी समुदाय के लोगों द्वारा पथराव कर उनके आन्दोलन को हिंसक बना दिया है जिसमे लगातार आग जनि और चक्का जैम आन्दोलन की वजह से अबतक महज चले दो महीने की मधेश आन्दोलन में ४८ लोगों की मरे जाने की खबर है वही सोमवार को एक बार फिर हिसक आन्दोलन को अंजाम नेपाल के बेलाहिया में दिया गया जहा हरताल के दौरान इंडियन नोम्बेर की तमाम मॉल लोडिंग गाड़ियाँ नेपाल में कई दिनों से फासी हो ने की वजह से आक्रोशित भीड़ ने द्रिवेरो पर हमला बोल दिया है एक सरदार ड्राईवर को हथुड़े से पित्पित कर हत्या कर दिया गया है तो सह चालक का कोई पता नहीं चल सका है वही भारतीय युवक दीपक वर्मा भी आन्दोलन व् पत्थरबाजी का शिकार हो गया है जिस की हालत भी गंभीर बनी हुई है नेपाल के भैराहावा में इलाज चल रहा है
प्राप्त समाचार अनुसार रोज की तरह एक बार फिर मधेसियो द्वारा सोनौली नो मैन्स लैंड पर धरना दिए जाने का कार्य चल रहा था की अचानक ही नेपाल पोलिसे ने उन्हें धरना देने से रोकने लगी देखते ही देखते भीड़ बेकाबू हो गई और पोलिस ने लाठी चार्ज कर दिया जिसमे पत्थर बजी हो गया वही आस पास के पहाड़ी समुदाय व् पोलिसे दोनों ने पत्थर बजी सुरु कर दिया जिससे नेपाल में भरी मात्र में गाडियों की जाम लग गई और एक ड्राईवर को पहाडियों द्वारा मारा पिटा जाने लगा जिसका विरोध करते हुए भारतीय सीमा पर भी ड्राईवर यूनियन ने मैत्री काठमांडो जाने वाली नेपाल यात्रियो से भरी बस को रोक दिया और नारे बजी करने लगे जिस की बिरोध कर रहे दड्राईवरयो की यूनियन ने कम कर आरहे मुम्ब्सी से नेपाली युवक को कोपभाजन का सीकर बना दिया और मरने पीटने लगे सोनौली पुलिस व् प्रहरी एसएसबी की सक्रियता से उसे बआचाय गया वही उसे एसएसबी कैम्प में इलाज भी कराया गया पर नेपाल के पहाड़ी मूल की अवाम व् मदेसियो की आन्दोलन की वजह से बॉर्डर की दोनों तरफ की दुकाने बंद हो गई और बॉर्डर पूरीतरह से बन कर दिया गया है वाही भारतीय मूल के ड्राईवर नेपाल जाने से कतराने लगे हैं और सोनाव्ली से नव्तान्वा तक लगभग 10 किमी की लम्बी लाइन लग गया है भगदड़ में दर्जनों मधेसी जख मी हो गये हैं तो वाही दूसरी तरफ तिन ड्राईवरयो की हयात नाजुक बनी हुई है लगातार नेपाल की हालत बिगड़ ती जा रही है मदेष आन्दोलन पुलिस और पहाड़ियों द्वारा दमन करने की साजिस की शिकार होता जा रहा है और नेपाल पूरी तरह से गिरिः युद्ध में और भी जलता जा रहा है अबतो यह बता प-आना और तय होपना मुस्किल ही है की कबतक नेपाल जलता रहेगा फ़िलहाल अभीतक तो किसी भी तरह से सुधर की हालत बनते नहीं दिख रहा है वाही नेपाल मधेस के नेता व् पूर्व में वन मंत्री उध्युग्मंत्री तथा औधोगिक मंत्री रहर मधेस के बड़े नेता हृदेश त्रिपाठी ने कहा है की हम हक़ की लड़ाई लड़ रहे है सामान अधिकार सम्मान की मांग कर रहे हैं पर हमें अधिकार नहीं दिया जा रहा है हमारे संबैधानिक आन्दोलन को हिंसक बनाने का कार्य नेपाल पुलिस व् पहाड़ी लोगे कर रहे हैं जो छअम्य नही है हमें जबतक सामान अधिकार नहीं मिल जाता हमारा आन्दोलन चलता रहेगा नेपाल सर्कार का सौतेला बेवहार मधेसियों के साथ करना ओच्छी मानसिकता का परमद पेस किया है हमें न्याय व् सम्मान अधिकार चाहिए रिपोर्ट :- मुहम्मद आरिफ महराजगंज उत्तर प्रदेश मो० ०९९१८१०७८५०