दुल्हन माकिफ सजे बाजार, चारों ओर चहल पहल, मंदिरों में रौशनी रही खेल

0
350

दुल्हन माकिफ सजे बाजार, चारों ओर चहल पहल, मंदिरों में रौशनी रही खेल
चंडीगढ़ ; 9 नवम्बर ; आरके शर्मा /करण शर्मा ;—- आज धनतेरस के कारण शहर भर की सड़कों के जाम से दो चार होते रहे शहरवासी ! कई मीलों लम्बी कतारें रेंगती रही सड़कों पे ! घंटों सरक सरक के चलता रहा यातायात ! सड़कों पर त्यौहारों के कारण लम्बे जामों के आगे चंडीगढ़ पुलिस सहित ट्रैफिक पुलिस की तमाम व्यवस्थाएं रहीं धरी की धरी ! बजारों में खूब चहल पहल है हर मार्किट और शहर वसियों के घर सहित मंदिर आदि सब रौशनी में नहाये हुए हैं ! मंदिरों में माता लक्ष्मी नारायण जी के आगे भजन गायन और भांति भांति के नृत्य हो रहे हैं शंख ध्वनियों से शहर का हर गली कूचा गुंजित हो रहा है ! आज धनतेरस के शुभ दिवस के उपलक्ष्य में शहर में कई करोड़ों का व्यापर आगे उछला और व्यापारी दुकानदार वर्ग के चेहरे खिलें हैं ! खरीददारों का कहना है कि धन तेरस का शगुन है सो बजरा की स्थिति कैसी भी रहे खरीद दरी तो करनी ही है ! इसी का दुकानदार सर्राफा आदि सब मौके का लाभ उठाने से गुरेज नहीं बरत रहे हैं ! ट्राईसिटी में करोड़ो रूपये की बिक्री दर्ज की गई है ! सरकारी कर्मचारी वर्ग भी फेस्टिवल एडवांस मिलने और वेतन भी अभी हाथ में होने के चलते खूब ख़ुशी से शॉपिंग कर रहे हैं ! भले ही सालना बिक्री मेले सिर्फ भीड़ का सहारा बने हुए हैं ! मेले के दुकानदार मार्किटों में लगने वाले छोटे छोटे मेले की बजह से परेशान और हताश बैठे हैं ! मिठाई की दुकाने पहले की अपेक्षा कम सजी हैं ! मिठाई भी हलवाई बड़ी कंजूसी से बना रहे हैं ! सेक्टरों में लगने वाले बाजार भीड़ से भरे पड़े हैं ! लोग स्वर्ण व् चांदी सहित बर्तन आदि बड़े हषों उल्लास से खरीद रहे हैं ! खबर लिखे जाने तक बजारों में खूब भीड़ सहित रौनक बन कर आ रही है और बजारगिरी भी जारी है ! पुलिस चप्पे चप्पे पर मुस्तैद है और हर जगह पैनी निगाह रखे हुई है !