तेज हवाओं के साथ हुई बारिश मण्डी का टीनशेड धराशायी

0
684

अशोकनगर। दो दिनों से हो रहे मौसम मे बदलाव का दौर रविवार को भी जारीरहा। शनिवार की दोपहर को तेज हवाओं के साथ हुई बारिश रविवार को भी हुई।रविवार की दोपहर को अचानक मौसम ने करवट बदलते हुए शहर में जोरदार बारिशके साथ किसानों की चिंताएं बढ़ा दीं। सुबह के समय आसमान में खिली तेज धूपदोपहर बाद क ाली घटाओं में बदल गई। और अचानक बूंदाबांदी के साथ तेज बारिशका दौर हवाओं के साथ शुरू हो गया। करीब एक घण्टे तक जोरदार बारिश होतीरही। तेज हवाओं के साथ हुई इस बारिश ने शहर में कुछ जगहों पर पेड़ों कोभी गिरा दिया। कलेक्टे्रड कार्यालय में खडा एक पेड़ जड़ से ही गिर गया।तो इसी तरह तारासदन स्कूल विदिशा रोड पर भी एक पेड़ तेज हवाओं की भेंटचढ़ गया। पेड के सडक़ पर गिर जानें से एक ओर का रास्ता बंद हो गया। बीचरोड पर गिरे इस पेड़ की लकडिय़ों को बटोरने के लिये लोगों की भीड़ उमड़गई। तो वहीं दूसरी ओर हवा और बारिश ने किसानों की चिंताएं भी बढ़ा दी।जिलेभर में कई स्थानों पर अभी किसानों की फसल खेतों में ही रखी हुई है।अभी मात्र 30 प्रतिशत फसल ही खेतों में से कट पाई है। और कई फसल कटने के बाद अभी खेतों में ही रखी हुई है। तो कई स्थानों पर अभी खेतों में ही खड़ी हुई है। लेकिन मौसम के बदलाव के दौर के चलते फसलों पर पानी गिर गया। और फसलें पानी से खराब हो गई है। इसको लेकर किसानों के चेहरों पर चिंता की लकीरें खिंच गई हैं। और अब किसान बारिश के बाद तेज धूप निकलने का इंतजार कर रहा है। इसी तरह खरीदी केन्द्रों पर रखा गेहूं भी पानी से भीग गया। यहां रखे इस गेहूं को पानी से बचाने के लिये केन्द्र संचालकों के पास कोई इंतजाम नही है।

 मण्डी में गिरा टै्रक्टर पर टीनशेड—-

रविवार की दोपहर तेज हवाओं के साथ हुई बारिश से कृषि उपज मण्डी में लगा टीनशेड अचानक गिर गया। सीमेंट के चद्दरों वाला यह टीनशेड कई वर्ष पुराना लगा हुआ था। तेज हवाओं के कारण अचानक पूरा टीनशेड एकसाथ धराशायी हो गया। रविवार का दिन होने के कारण इस टीनशेड के नीचे मात्र एक ट्रैक्टर-ट्रॉली अनाज से भरा हुआ रखा था। उसी के समीप साईकिल एवं मोटरसाईकिल भी रखीं हुईं थीं। लेकिन यहां कोई व्यक्ति नही बैठा हुआ था। इस कारण कोई जनहानि नही हुई। घटना की जानकारी मिलने पर मण्डी प्रशासन और कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची।