छात्र राजनीति के बाद चैन सिंह ने रखा सक्रिय राजनीति में पांव, बसाल बीडीसी सीट बनी कांग्रेस के लिए प्रतिष्ठा का सावल

0
223

सोलन – ( धर्मपाल ठाकुर ) –  छात्र राजनीति में अपनी प्रतिभा का लोहा मनवा चुके एनएसयूआई के युवा नेता चैन सिंह ने अब सक्रिय राजनीति में कदम रख दिया है । इस युवा नेता के नेतृत्व में राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय सोलन में वर्ष 2006 में एन एस यू आई ने पहली मर्तवा छात्र संघ चुनाव में सभी सीटों पर जीत का परचम लहराया था । करीब 25 वर्ष बाद सोलन कॉलेज में एनएसयूआई ने ए बी वी पी वह एस एफ आई को कड़ी शिकस्त दी थी । हालाँकि उस वक्त प्रदेश में कांग्रेस की  सरकार काबिज थी और सोलन निर्वाचन क्षेत्र से डॉ राजीव बिंदल विधायक थे । इन चुनाव में ए बी वी पी को बढ़त दिलाने के लिए डॉ राजीव बिंदल ने अप्रत्यक्ष रूप से एड़ी चोटी का जोर लगा दिया था । लेकिन छात्रों के बीच युवा नेता चैन सिंह की मजबूत पकड़ और सहज स्वभाव ने डॉ बिंदल की कोशिशों को नेस्ताबूत कर चारो सीटों पर जीत दर्ज ली ।
सोलन कॉलेज में 2006 से लेकर 2009 तक एनएसयूआई का कब्जा रहा ।
वर्तमान में चैन सिंह युवा लोकसभा शिमला के सचिव है और संगठन के साथ साथ प्रदेश सरकार में मजबूत पकड़ रखतें है । अब इस युवा नेता ने सक्रिय राजनीति में पांव रख दिया है और बीडीसी बसाल से चुनाव मैदान में कूद गए है ।  यह युवा नेता शिक्षित है और मिलनसार भी है । चैन सिंह को स्थानीय विधायक एवं केबिनेट मंत्री डॉ धनी राम शांडिल से आशीर्वाद प्राप्त है और एनएसयूआई व युकां उनके साथ चट्टान की तरह खड़ी है । जैसे जैसे चुनाव की तारिक नजदीक आ रही है बसाल व धरोट से बी डी सी उम्मीदवार चैन सिंह समर्थकों की फ़ौज के साथ प्रचार अभियान में जुट गए है । इस युवा नेता का तालुक एन एस यू आई व युकां से होने की बजह से बीडीसी की सीट सोलन कांग्रेस के लिए प्रतिस्ठा का सवाल बन गई है । चैन सिंह ठाकुर की जीत को सुनिश्चित बनाने के लिए कांग्रेस ने पूरा खाका तैयार कर लिया है । इस युवा एवं जुझारू नेता को यदि बसाल व धरोट की जनता अपना आशीर्वाद देती है तो यह उभरता नेता क्षेत्र के विकास में मील का पत्थर साबित हो सकता है ।