चार रोज से गायब बिल्डिंग इंस्पेक्टर संजीव संदिग्ध हालत में मिला बेहोश

0
684
चार रोज से गायब बिल्डिंग इंस्पेक्टर संजीव संदिग्ध हालत में मिला बेहोश

चंडीगढ़ /पंचकुला ; आरके शर्मा /कर्मदीप सिंह  ;—–पंचकुला नगर निगम का बिल्डिंग विभाग का गायब हुआ इंस्पेक्टर संजीव कुमार अब इस वक़्त हॉस्पिटल में उपचाराधीन है ! वह अभी भी नशे की ग्रिफ्त  में है !  ये तो अब मेडिकल रिपोर्ट आने पर  ज्ञात होगा ये नशा किस चीज का है और क्या संजीव ने खुद सेवन किया या किसी ने उसको करवाया है ! ट्राईसिटी में ये यकलख्त लापता हो जाने की घटना अभी भी चर्चा का विषय बना हुआ है ! पुलिस के मुताबिक संजीव कुमार गायब हो जाने के बाद सेक्टर 17 बेहोशी की हालत में मिले थे ! पुलिस संजीव कुमार को लेकर सेक्टर 6 स्थित सरकारी अस्पताल ले आई थी ! संजीव किसी को पहचानने की हालत में नहीं है ! डाक्टरों के मुताबिक अस्पताल लए जाने के वक़्त उसका रक्तचाप भी सामान्य से भी ज्यादा ही था ! मौके पे पहुंचे संजीव कुमार के भाई पवन कुमार ने कहा उनके घर पर किसी अज्ञात ने फोन किया बताया कि संजीव सहरनपुर की बस में स्वर होते देखा गया ! तभी पुलिस हुई मुस्तैद और संजीव को लेकर सेक्टर छ पंचकुला आई ! पर संजीव के मोटर साइकिल की चाबी भी उसी की जेब में मिली ! संजीव सरकारी काम से हरियाणा पंजाब हाईकोर्ट गया था ! पार्किंग से ही  लावारिश हालत में खड़ी मोटर साइकिल मिली थी ! चंडीगढ़ सेक्टर तीन पुलिस स्टेशन में मामला भी दर्ज हुआ था ! 18 सितमबर को हरियाणा के भवन निरीक्षकों का एक शिष्टमंडल पंचकुला नगर निगम दफ्तर के बाद मुख्यमंत्री मनोहर लाल खटटर को ज्ञापन देना गया और उनके ओसएसडी जवाहर लाल यादव को ज्ञापण दिया ! मांग की गई जल्दी संजीव को खोज निकला जाये ताकि कोई बुरी वारदात न घटे ! और जिम्मेवारों को सजा दिलवाई जाये ! उनके पिता बलबीर सिंह और फैमिल मेंबर्स भी नगर निगम के कमिश्नर से मिले थे ! सवाल तो ये ही मुख्य तौर पर उठ रहा कि संजीव को सरकारी फाइलों के साथ कोर्ट में वकील से मशविरा हेतु किस ने किस अथॉरिटी से भेजा ! बताते चलें उक्त दफ्तर में एक एडीए पद भी है और अधिकारी भी है ! उसको क्यों नहीं भेजा गया जिसकी जिम्मेवारी थी ! संजीव के कुलीक्स ने दोहराया अगर एडीए अनुपस्थित था तो दूसरा उच्च अधिकारी भी तो साथ जा सकता था ! आखिर इन फाइलों में ऐसा था क्या  की जान पर बन आई का सबब बन गया ! आज जहाँ संजीव कुमार इंस्पेक्टर बिल्डिंग ऑफिस के साथी और परिवार वाले राहत की सांस ले रहे हैं वहीँ  उच्च अधिकारिओं और जिम्मेवार व् जवाबदेह अफसरों की सांसे फूलनि शुरू हो गई हैं ! ये गाज किस पर गिरेगी आने वाला वक़्त ही बताएगा और सब को मेडिकल रिपोर्ट का और पुलिस की जाँच पड़ताल की रिपोर्ट का बेसब्री से इन्तजार है !

=================================
फोटो  ] नगर निगम पंचकुला का भवन विभाग का इस्पेक्टर संजीव कुमार पुलिस की निगरानी में जर्नल अस्पताल सेक्टर 6 पंचकुला में उपचाराधीन
============================================