कोर्ट के गिरफ्तारी आदेष पर आने को राजी हुईं, कलेक्टर छवि भारद्वाज

0
172

ग्वालियर।८ दिसंबर [सीएनआई ब्यूरो] डिडोंरी कलेक्टर छवि भारद्वाज पिछले डेढ़ साल से ग्वालियर कोर्ट में अपनी गवाही देने के लिये नहीं आ रही थीं। यहां तक की गिरफ्तारी वारंट भी निकाला गया, इस पर कोर्ट ने सीधे गिरफ्तार करने का आदेष निकाल दिया। गिरफ्तारी आदेष की सूचना मिलते ही डिडोंरी कलेक्टर छवि भारद्वाज ने तुरंत फैक्स कर अगली पेषी पर हर हाल में उपस्थित होने की सहमति प्रदान की। फैक्स आने के बाद कोर्ट ने फिलहाल गिरफ्तार वारंट को रोक लिया है। दरअसल वर्ष 2009 में छवि भारद्वाज जनपद पंचायत मुरार के सीईओ पद पर कार्यरत थीं। उन्होंने गुर्री पंचायत में मनरेगा के तहत हुये 48 लाख रूपये के काम में भ्रष्टाचार की षिकायत मिलने पर जांच की थी, जिसमें सरपंच मुन्नीदेवी व सचिव राजेन्द्र सिंह 25 लाख की हेराफेरी में दोषी पाये गये थे। फर्जी मस्टर भरकर रूपया निकाला गया था। टॉयलेट 145 की जगह 43 बनाये गये थे, उटीला थाने में छवि भारद्वाज की रिपोर्ट पर से मामला सरपंच व सचिव के खिलाफ दर्ज किया गया था। विषेष सत्र न्यायालय में इस केस की ट्रायल चल रही है, अपर लोक अभियोजक सुसेन्द्र परिहार ने बताया कि उन्हें गिरफ्तार करके कोर्ट में पेष किया जाना था, लेकिन फैक्स आने पर 12 जनवरी तक कोर्ट ने फिलहाल गिरफ्तारी आदेष को रोक लिया है।col chavi bhardwaj  dindorycourt