आंगणवाड़ी वर्करों ने खोला शिक्षा सचिव के खिलाफ मोर्चा, शिक्षा सचिव कृषण कुमार को भेजा खून से लिखा पत्र,

0
484
बरनाला, 25 अक्टूबर(अखिलेश बंसल)
ऑल पंजाब आंगणवाड़ी मुलाज़िम यूनिअन बरनाला की ओर से शिक्षा सचिव कृषण
कुमार का पुतला फूंक उनकी मनमानियों के विरोध में रोष प्रदर्शन किया।
उसके साथ ही खून से लिखा खत शिक्षा सचिव को मांग पत्र भी भेजा। कांग्रेस
के वरिष्ठ नेता केवल सिंह ढिल्लों के निवास के घेराव करने जा रही
मुलाज़िमों के प्रदर्शन को असफल करने के लिए प्रदर्शनस्थल पर पहुंची पुलिस
के अधिकारियों के साथ वर्करों की कहा-सुनी भी हुई। इस मौके पे सिविल
प्रसाशन की ओर से ड्यूटी मेजिस्ट्रेट हरमनोहर सिंह भी थे।

यूनिअन की राष्ट्रीय प्रधान हरगोबिन्द कौर ने संबोधन करते शिक्षा सचिव ने
नादरशाही फरमान जारी करते हुए तीन साल के बच्चे आज से सरकारी प्राईमरी
स्कूल में दाखिल करने का आदेश दिया है। जबकि पूरे भारत में इस उम्र के
बच्चे आंगणवाड़ी केन्द्रों में पढ़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि आंगणवाड़ी
वर्कर ऐसे बच्चों को आंगणवाड़ी केन्द्रों में प्री-स्कूलिंग शिक्षा दे
रहीं हैं। उन्होंने कहा कि जब सरकारें अभी तक सरकारी स्कूलों के बच्चों
की जरूरतें पूरी नहीं कर सकी तो ऐसे में मासूम 3/3 साल के बच्चों की
जरूरतें कैसें पूरीं करेंगे।

यूनिअन सचिव हरजीत कौर, कोषाध्यक्ष हरपाल कौर, परमजीत कौर संघेड़ा आदि का
कहना है कि आंगणवाड़ी मुलाकिाम नेत्री ने कहा कि इन बच्चों को जन्म देने
वाली माता के बाद आंगणवाड़ी वर्कर/हैल्पर्स ही मिलती है जो उन्हें माता
जैसा लालन-पालन-शिक्षा देती है। उन्होंने कहा कि यूनिअन की ओर से लंबे
समय से एक ही मांग पर जोर दिया जा रहा है कि स्कूलों में दाखिलें के वक्त
आंगणवाड़ी केन्द्र से सर्टीफिकेट लिया जाए।

आंगणवाड़ी वर्करों/हैल्परों ने चेतावनी दी कि यदि इन बच्चों को आंगणवाड़ी
केन्द्रों से दूर किया गया तो पंजाब के नौनिहालों का भविष्य अन्धकार में
डूब जाएगा। इस मौके पर किरणजीत कौर, वीरपाल कौर, सिकंदर कौर, हरजीत कौर,
अमृतपाल कौर, प्रकाश कौर, सीता रानी आदि ने भी संबोधित किया।

Attachments area