अन्धे कत्ल के खुलासे मे चन्देरी पुलिस को मिली सफ लता एस.पी. ने दिया पुलिस टीम केा पॉच हजार का पुरूस्कार

0
796

अशोकनगर ।चन्देरी। रक्षा वंधन के दूसरे दिन दिनंाक 30 अगस्त को दशरथ साहू निवासी सिंहपुर चाल्दा अपनी गाय ढूंढने सकल कुडी मंदिर के पीछे गया तो उसे खन्नी के पेड की डाली पर एक आदमी लटका हुआ दिखा जो चौखाने की फु ल अस्तीन शर्ट व नीले रंग का लॉवर पहने हुआ था लाश काफ ी सडी गली हालात मे थी सूचना पर से पुलिस द्वारा मर्ग कायम कर जॉच मे लिया गया था जॉच के दौरान सकल कुडी के पास रहने वाले लोगो से पूछताछ की गई तो पता चला की रक्षा बंधन के दो तीन दिन पहले कल्ला व संतोष रैकवार ने मुन्नलाल की दुकान के बहार बैठकर शराब पी थी कल्ला (मृतक) उस दिन वही कपडे पहने था उसी रात मृतक के घर  पर आसपास के लोगो के द्वारा झगड़े की आवाज भी सुनी थी व झगड़े को देखा भी था जॉच के दौरान मृतक को कल्ला पुत्र तेज ंिसह रैकवार निवासी हाटकापुरा होना पाया गया इस पर से पुलिस द्वारा मृतक के चाचा हल्के पुत्र बसंत रैकवार व उसके परिजनो तथा पडोसियो से पूंछताछ की गई तो पता चला कि रक्षा के बंधन के दो दिन पहले से मृतक कल्ला द्वारा हल्के की वहु से छेडख़ानी की गई थी जिससे नाराज हो कर चाचा हल्के, चाची श्रीमति गुडडी वाई व महेश  उर्फ  पिटटे, राजू उर्फ गोलू द्वारा मृतक की कुल्हाडी, डण्डा, तथा चप्पलो से मार कर हत्या कर दी और सबूत मिटाने तथा अत्मा हत्या की घटना बताने के लिये लाश को सकल कुडी मंदिर के पीछे ले जा कर पेड पर लटका दिया था। साथ ही उसके मुह पर काला तेल डाल दिया था जिससे की लाश की पहचान न हो सके पुलिस द्वारा धारा 302,201तथा 34 आई.पी.सी. के तहत मुकदमा दायर कर चारो आरोपियो को गिरफ्तार किया गया इस अन्धे कत्ल को पुलिस अधीक्षक संतोष सिह गोर ने गम्भीरता से लिये एवं अतिरिक्त पुुुुलिस अधीक्षक विनोद कुमार सिंह चौहान के  नेतृत्व मे टीम का गठन किया जिसमे एस.डी.ओ.पी. शिव सिंह भदोरिया, थाना प्रभारी अशोक सिंह तोमर, एस.आई, श्रीराम तिवारी, एस.आई एल, आर पैंकरा, एस.आई. मन्जु मखेनिया, प्रधान आरक्षक अमर सिंह , आरक्षक योगेन्द्र सिंह , पुष्पेन्द्र सिंह की सराहनीय भूमिका रही
एस.पी.ने दिया  पुरूष्कार:- अन्धे कत्ल की गुथ्थी सुलझाने के लिये संतोष सिंह गौर द्वारा एस.डी.ओ.पी. शिव ंिसह भादोरिया की प्रशंसा की गई। वही थाना प्रभार अशोक सिंह तोमर और उनकी पूरी टीम को 5 हजार रूपये का पुरूष्कार दिया गया।